Sections

Newsletter
Email:
Poll: Like Our New Look?
Do you like our new look & feel?

शतावरी चूर्ण

Font size: Decrease font Enlarge font

पर्यायवाची: शतावर्यादि चूर्ण

गुण व उपयोग – यह चूर्ण पौष्टिक, श्रेष्ठ, बाजीकरण और उत्तम वीर्य-वद्‍​र्धक है। इस चूर्ण के सेवन से रस-रक्तादि सप्तधातुओं की वृद्धि हो कर पौरूष शक्ति बढ़ती है।

मात्रा व अनुपान - 3 से 6 ग्राम, दिन में दो बार दूध के साथ।

Tags
No tags for this article
Rate this article
0