Sections

Newsletter
Email:
Poll: Like Our New Look?
Do you like our new look & feel?

सिद्धदरदामृत रस

Font size: Decrease font Enlarge font

गुण व उपयोग: सिद्धदरदामृत रस रसायन, श्रेष्ठ, बल, वीर्य वर्द्धक, ओजवर्द्धक व शरीर और धातुओं को पुष्ट करने वाला है। इसके सेवन से ऊरूस्तम्भक, आमवात, पक्षाघात आदि वातजन्य रोग, पुराने सन्निपातिक प्लीहा वृद्धि तथानपुंसकता आदि में उत्तम लाभ मिलता है।

मात्रा व अनुपान: 62.5 मिलीग्राम, शहद के साथ अथवा रोगानुसार उचित अनुपान के साथ।

Tags
No tags for this article
Rate this article
0