Sections

Newsletter
Email:
Poll: Like Our New Look?
Do you like our new look & feel?

शोथकालानल रस

Font size: Decrease font Enlarge font

गुण व उपयोग: शोथकालानल रस के सेवन से यकृत् व तिल्ली की सूजन में उत्तम लाभ मिलता है। इसके अलावा मन्दागिन, शूल रोग, संग्रहणी, कास, प्लीहोदर रोग, प्रमेह आदि में लाभदायक है।

मात्रा व अनुपान: 2 गोली मकोय अर्क अथवा पुनर्नवादि क्वाथ के साथ या चिकित्सक के परामर्श अनुसार।

Rate this article
0