Home | स्वास्थ्य | ‌‌‌नारी स्वास्थ्य | तीस साल की आयु के बाद गर्भधारण - माँ और बच्चे के लिए खतरा!

Sections

Newsletter
Email:
Poll: Like Our New Look?
Do you like our new look & feel?

तीस साल की आयु के बाद गर्भधारण - माँ और बच्चे के लिए खतरा!

Font size: Decrease font Enlarge font

आज के दौर में जिस तरह महिलायें भाग-दौड़ में लगी हैं और हाई-प्रोफाइल नौकरी करती हैं उसका असर उनकी निजी ज़िन्दगी पर भी आया है और व्यावसायिक जीवन (Professional life) के सामने निजी ज़िन्दगी का महत्व लगभग ख़त्म सा हो गया है। जल्दी शादी करने का रिवाज़ अब नहीं रहा, साथ ही अब कोई स्त्री जल्दी माँ ‌‌‌भी नहीं बनना चाहती। समस्या तब बढ़ जाती है जब ‌‌‌युगल गलत जीवनशैली का चुनाव करते हैं, नतीजा यह कि महिलाओं को अब ‌‌‌गाइनेकोलोजिकल समस्याएं बढ़ने लगी हैं और गर्भ धारण करने के साथ-साथ गर्भावस्था के दौरान समस्याएं बढ़ने लगी हैं। जब गर्भाधारण में देरी की जाती तो कुछ समस्याएं व उनसे निपटने के ‌‌‌कुछ तरीके इस प्रकार हैं

सबसे पहली समस्या है गर्भ धारण करना। उम्र बढ़ने के साथ साथ महिलाओं में अंडाशय से अण्डे का निर्माण कम होने लगता है जिसकी वजह से बांझपन की सम्भावना बढ़ जाती है। तीस साल की आयु से पहले पहले प्रजनन क्षमता श्रेष्ठ होती है। इसलिए उम्र का तीसवां साल लगने के पहले गर्भ धारण सही रहता है।

गर्भ धारण के बाद उसे बनाये रखने में परेशानी होने की संभावना होती है क्योंकि महिलाओं में अधिक हार्मोनल परिवर्तन की वजह से स्वतः गर्भपात हो सकता है।

इसके अलावा दूसरी तिमाही में गलग्रन्थि रोग, डायबिटीज़ और उच्च रक्तचाप जैसी समस्याएं भी हो जाती हैं।

लम्बी प्रसव पीड़ा (Prolonged Labour Pain)

ज्यादा उम्र में गर्भ धारण से लम्बे समय प्रसव पीड़ा हो सकती है। इसके कुछ कारण हैं

बच्चे को बाहर निष्कासित करने के लिए उचित दबाव (कांट्रेकशंस) न होना

ग्रीवा का ठीक से न खुलना

बच्चे की गतिविधि ठीक न होना

उपरोक्त स्थितिओं में सिजेरियन (ऑपरेशन) चुनना पड़ता है।

नवजात के लिए खतरा

अधिक उम्र में गर्भधारण माँ और बच्चे के लिए खतरा हो सकता है। गर्भधारण चाहे आसानी से हो जाए किन्तु स्वस्थ बच्चे को जन्म देना मुश्किल और घातक हो सकता है।

ज्यादा उम्र वाली गर्भावस्था में बच्चे में आनुवंशिक (Genetic) असामान्यताएं जैसे डाउन सिंड्रोम या रीढ़ की हड्डी में विकृति हो सकती है।

यदि आप तीस वर्ष की आयु पार करके माँ बनना चाहती हैं तो डॉक्टर से संपूर्ण जांच करवा लें ताकि गर्भधारण के बाद आपको किसी मुसीबत का सामना न करना पड़े।

Rate this article
5.00