Home | स्वास्थ्य | ‌‌‌नारी स्वास्थ्य | गर्भावस्था में आहार के बारे में कुछ तथ्य

Sections

Newsletter
Email:
Poll: Like Our New Look?
Do you like our new look & feel?

गर्भावस्था में आहार के बारे में कुछ तथ्य

Font size: Decrease font Enlarge font

जब कोई महिला माँ बनने वाली है, तो यह जरुरी है की वह अच्छा खाए। इससे उसको उसके और उसके गर्भ में पल रहे शिशु के लिए जरुरी सभी पोषक तत्व मिल सकेंगे। यदि आपका आहार शुरुआत से ही ठीक नहीं है, तो यह और भी महत्वपूर्ण है की ‌‌‌वह अब स्वस्थ आहार खाएं। उसको अब और अधिक विटामिन और खनिज, विशेष रूप से फॉलिक एसिड और आयरन की जरूरत है।

गर्भावस्था के दौरान दैनिक आहार में सम्मिलित किये जाने वाले आवश्यक पोषक तत्वों के बारे में बात करने से पहले गर्भावस्था के बारे में कुछ बातें जानना आवश्यक है।

स्वस्थ गर्भावस्था का सबसे महत्वपूर्ण लक्षण संतुलित रूप से शारीरिक भार बढ़ना है।

गर्भवती महिला के लिए आवश्यक कैलोरी की मात्रा उसकी ऊँचाई, बॉडी मास इंडेक्स (B.M.I.) और दैनिक गतिविधि पर निर्भर करती है।

गर्भावस्था 9 महिनों की होती है और यह तीन तिमाहियों (प्रत्येक तीन महिनों) में बांटी गयी है। पहली दो तिमाहियों के दौरान 2000 कैलोरी का प्रतिदिन लेना पर्याप्त है। अंतिम तिमाही के दौरान 200 अतिरिक्त कैलोरी का सेवन करना चाहिए।

विभिन्न प्रकार के पोषक तत्वों की पूर्ति के लिए विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थों का सेवन करें।

इस बात का ध्यान रखें कि रोजाना 6 बार साबूत अनाज, 2 बार फल, 4 बार सब्जियों, 4 बार डेयरी उत्पाद और 2 बार प्रोटीन का सेवन करें।

फाइबर और स्टार्च से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करें।

दैनिक आहार द्वारा पर्याप्त मात्रा में विटामिन और मिनरल्स को प्राप्त करें; आवश्यकता होने पर विटामिन पूरकों का सेवन भी कर सकते हैं।

नाश्ता अवश्य करें।

भूखे नहीं रहें और दिनभर में स्वस्थ अल्पाहार लेते रहें।

मीठे खाद्य पदार्थों का उपभोग कम करें।

कैफीन और एल्कोहॉल का सेवन नहीं करें।

खूब सारे पेय पदार्थों का सेवन करें, खासकर पानी और ताजा फलों के रस का।

Tags
No tags for this article
Rate this article
5.00